PM के दौरे की खातिर नहीं हुआ गुजरात चुनाव की तारीखों का ऐलानः कांग्रेस

0
Subscribe us on Youtube

नई दिल्ली। चुनाव आयोग ने गुरुवार को हिमाचल प्रदेश के विधानसभा चुनावों की तारीखों की घोषणा कर दी है। लेकिन गुजरात विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान नहीं किया है। इसको लेकर कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि चुनाव आयोग ने गुजरात विधानसभा चुनावों की तारीख का ऐलान इसलिए नहीं किया है कि क्योंकि गुजरात में 16 अक्टूबर को पीएम मोदी का दौरा होना है। कांग्रसे ने कहा कि यह सब पीएम मोदी के इशारे पर हो रहा है। वहीं चुनाव आयोग ने साफ कहा है कि पीएम मोदी के दौरे से चुनाव की तारीखों का कोई लेना देना नहीं है।

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने आरोप लगाते हुए कहा कि पीएम मोदी 16 अक्टूबर को गुजरात जा रहे हैं। अगर चुनाव की तारीखों का ऐलान हो जाता तो वहां आचार संहिता लग जाती। उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग को इस मसले पर देश की जनता को जवाब देना चाहिए।

मीडिया खबरों के अनुसार, गुजरात के विधानसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान नहीं किए जाने पर कांग्रेस ने आरोप लगाते हुए कहा कि पीएम मोदी के कहने पर ही चुनाव आयोग ने गुजरात राज्य चुनाव की तारीख का ऐलान नहीं किया है। हालांकि चुनाव आयोग ने इन आरोपों का खारिज कर दिया है। चुनाव आयोग का कहना है कि पीएम मोदी के गुजरात दौरे से चुनाव की तारीख के ऐलान का कोई लेना देना नहीं है। यह नियमानुसार किया गया है। इसके साथ ही चुनाव आयोग ने यह भी साफ कर दिया है कि हिमाचल और गुजरात विधानसभा के वोटों की गिनती एक ही तारीख 18 दिसंबर को की जाएगी। वहीं चुनाव आयोग के सूत्रों का कहना है कि गुजरात चुनाव की तारीखों का ऐलान अगले हफ्ते हो सकता है।

आपको बता दें कि पीएम मोदी 16 अक्टूबर को गुजरात के दौरे पर जाने वाले हैं। कहा जा रहा है कि वो इस दौरे पर यहां कई नई योजनाओं का शिलान्यास कर सकते हैं।

Subscribe Here to follow Nedrick News Official Youtube Channel

मीडिया ने जब मुख्य चुनाव आयुक्त अचल कुमार ज्योति से पूछा कि क्या पीएम मोदी के दौरे को देखते हुए गुजरात चुनाव की तारीखों की घोषणा नहीं की गई है। इसका जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि इसका पीएम मोदी के दौरे कोई लेना-देना नहीं है। सुप्रीप कोर्ट ने भी कहा है कि किसी बी राज्य में ज्यादा दिनों तक आछार संहिता लगाना अच्छा नहीं है। इसके साथ ही कहा कि गुजरात सरकार ने बाढ़ पीड़ितों को सहायता देने के लिए कुछ दिन का समय मांगा था। उन्होंने कहा कि अभी तक कम अंतराल में होने वाले चुनावों की ऐलान एक साथ ही होता था।

मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि हिमाचल प्रदेश के वोटों की गिनती के साथ ही गुजरात चुनाव के वोटों की गिनती होगी। यानि गुजरात में भी 18 दिसंबर से पहले वोटिंग खत्म हो जाएगी।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here